विंध्य के पुनर्निर्माण में जो बलि देनी होगी,दूंगा मुझे न दल की चिंता और न टिकट की चिंता,विंध्य की लड़ाई लड़ता रहूंगा – नारायण त्रिपाठी

राज्य

विंध्य के पुनर्निर्माण में जो बलि देनी होगी,दूंगा मुझे न दल की चिंता और न टिकट की चिंता,विंध्य की लड़ाई लड़ता रहूंगा – नारायण त्रिपाठी

उमरिया 2 अक्टूबर – हमारा विंध्य हमे लौटा दो, हमारे विंध्य का पुनर्निर्माण कर दो, हमारा विंध्य सक्षम और समृद्ध है। देश मे अभी 8 राज्यो का निर्माण होने वाला है, हमारे समृद्ध विंध्य को भी राज्य का दर्जा दे दो, हमारा विंध्य इतना सक्षम है कि किसी और राज्य को गोद ले सकता है, उक्त उद्बोधन जिला मुख्यालय स्थित गांधी चौक में विंध्य जनजागरण अभियान में पहुंचे मैहर भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी ने कहा, इस दौरान उन्होंने यह भी कहा कि विंध्य के पुनर्निर्माण में जो बलि देना होगा, हम देंगे, हमे दल और टिकट की चिंता नही, मां शारदा की कृपा और आशीर्वाद है जिसका निर्वहन हम कर रहे है। उन्होंने यह भी कहा कि वर्ष 2005 में जब हम समाजवादी पार्टी से विधायक रहे तब भी उस समय माननीय मुलायम सिंह से हमने विंध्य प्रदेश की चर्चा की थी। इस दौरान उन्होंने जिला प्रशासन को भी जमकर खरी खोटी सुनाया और कहा कि विंध्य हमारी जन्मस्थली है, हमारे लोगों एवम पूर्वजों का घर है, प्रशासन हमे अपने लोगों से मिलने नही दे रहा। विंध्य जनजागरण अभियान में 2 दर्जन से अधिक गाड़ियों का भारी भरकम काफिला था, उमरिया कार्यक्रम से पूर्व इन्होंने चंदिया में भी भव्य कार्यक्रम में हिस्सा लिया, जहाँ उन्होंने विंध्य प्रदेश के पुनर्निर्माण को लेकर जन मानस को जागरूक किया है।
पुलिस बेरिकेट हटाकर बढ़ा काफिला
भारी भरकम काफिला लेकर जैसे ही मैहर से भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी जिला मुख्यालय स्थित स्टेशन चौक पहुंचे, वहाँ पुलिस ने उनका रास्ता रोका और शहर के अंदर जाने को मना किया परन्तु वाहन छोड़कर नारायण त्रिपाठी अपने लाव लश्कर के साथ पैदल ही निकल गए, हालांकि बाद में मामले में नरमी आई और फिर काफिला स्टेशन रोड से गांधी चौराहे के लिए निकल गया परन्तु पुलिस ने पुनः जयस्तम्भ में उन्हें रोकने की कोशिश की, लेकिन काफिले ने पुलिस की एक न सुनी और बेरिकेट्स हटाते हुये काफिला गांधी चौराहा पहुंच गया। गांधी चौराहे में सर्व प्रथम मैहर विधायक नारायण त्रिपाठी राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया और फिर अपने साथ चल रहे मंचीय वाहन में विंध्य प्रदेश के पुनर्निर्माण को लेकर उद्बोधन दिया। मैहर विधायक के आने से पूर्व जिले के कलेक्टर ने बिना अनुमति गांधी चौराहे में लगे मंच को हटवा दिया था, जिसके चलते नारायण त्रिपाठी अपने भाषण के दौरान नाराज दिखे, इस मामले में कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव ने कहा कि किसी भी कार्यक्रम में रास्ता ब्लाक नही किया जा सकता, इनके कार्यक्रम में लगा टेंट मुख्य मार्ग अवरोध कर रहा था, शिकायत पर उक्त स्थल से मंच वगैरह हटाया गया है।
गौरतलब है कि पूर्व में भी उसी जगह पर भाजपा, कांग्रेस और अन्य पार्टियों के मंच लगाए जा चुके हैं, ऐसा नही है कि कोई पहली बार वहां पर मंच लगाया गया था, इतना जरूर है इस बार अनुमति नहीं ली गई थी।

वाहनों का काफिला
गांधी जी को नमन करते

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *