शासकीय आदर्श महाविद्यालय उमरिया में विविध व्याख्यानों का आयोजन

करियर राज्य

सुरेन्द्र त्रिपाठी

शासकीय आदर्श महाविद्यालय उमरिया में विविध व्याख्यानों का आयोजन
उमरिया 3 सितम्बर – स्वामी विवेकानंद कॅरियर मार्गदर्शन योजना के अन्तर्गत शासकीय आदर्श महाविद्यालय उमरिया में अगस्त माह में विविध व्याख्यानों का आयोजन किया गया। महाविद्यालय के ट्रेनिंग एवं प्लेसमेंट अधिकारी तथा उमरिया जिले के नोडल अधिकारी शिव कुमार हल्दकार ने बताया कि स्वामी विवेकानंद कॅरियर मार्गदर्शन योजना, उच्च शिक्षा, भोपाल द्वारा जारी केलेंडर के परिपालन में अगस्त माह में विभिन्न व्याख्यानों का आयोजन आनलाईन किया गया। व्याख्यानों की शुरुआत शिव कुमार हल्दकार के द्वारा दिनांक 24/08/ 2021 को की गई जिसमें उन्होंने स्वामी विवेकानंद कॅरियर मार्गदर्शन योजना के उद्देश्यों, विविध गतिविधियों, अच्छा करियर कैसे बनायें इत्यादि पर चर्चा की तथा समस्त विद्यार्थियों से करियर मित्र ऐप्प डाउनलोड करवाया गया। शिव कुमार हल्दकार द्वारा बताया कि उच्च शिक्षा विभाग द्वारा संचालित स्वामी विवेकानंद कॅरियर मार्गदर्शन योजना का प्रमुख उद्देश्य महाविद्यालय में अध्ययनरत विद्यार्थियों को रोजगार के अवसरों की जानकारी देना, उन्हें रोजगार / स्वरोजगार प्राप्ति हेतु प्रशिक्षित करना एवं उनके व्यक्तित्व का विकास करना है। इसके पश्चात अलग अलग तिथियों में भारत का भौगोलिक परिचय ( अरुणेद्र बहादुर सिंह एवं श्रीमती कंचन प्रजापति द्वारा), भारतीय स्वतंत्रता आन्दोलन एवं प्रमुख स्वतंत्रता सेनानी ( डा नियाज़ अहमद अंसारी एवं डा विनय कुमार कुशवाहा द्वारा), सम्प्रेषण कौशल, व्यक्तित्व निर्माण, विभिन्न व्यावसायिक पाठ्यक्रमों की जानकारी ( डा विजय डावर, श्रीमती नीता बेन, सुश्री बेबी धुर्वे द्वारा) , विविध त्योहार एवं सामाजिक सौहार्द ( डा पिंकी सोमकुंवर , श्रीमती शारदा सोनी, श्रीमती ललिता गोरे द्वारा) , प्रमुख महिला स्वतंत्रता सेनानी ( डा सत्या सोनी एवं सुश्री निशी कर्ण द्वारा), जल प्रदूषण / जल संरक्षण ( डा नवीन उपाध्याय एवं श्रीमती रीतू सिंह द्वारा), कुटीर उद्योग एवं रोजगार के अवसर ( डा गरिमा सिंह, श्रीमती भावना गौहर, श्री पुष्पराज मरावी द्वारा ) व्याख्यान दिये गये जिनमें महाविद्यालय के 500 से अधिक विद्यार्थी लाभांवित हुए । इसके अतिरिक्त दिनांक 25/ 08/ 2021 को ” दूरस्थ शिक्षा में भोज विश्व विद्यालय के महत्व ” पर वेबिनार का आयोजन भी किया गया जिसमें प्राचार्य डा एम एन स्वामी, डा अभय पाण्डेय एवं डा विनय कुमार कुशवाहा ( भोज अध्ययन केंद्र समन्वयक) ने भोज विश्व विद्यालय में उपलब्ध विभिन्न कोर्सेस, कक्षायें, परीक्षा इत्यादि पर विस्तार से प्रकाश डाला तथा महाविद्यालय में संचालित भोज के अध्ययन केंद्र के बारे में जानकारी दी गई । डा विनय कुमार कुशवाहा ने बताया कि इस वर्ष से महाविद्यालय में स्थित भोज अध्ययन केंद्र में स्नातक स्तर के विभिन्न कोर्सेस के अतिरिक्त स्नातकोत्तर एवं विभिन्न डिप्लोमा/प्रमाण-पत्र कोर्सेस भी शुरू किए गये हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *