कलेक्टर कार्यालय के नाम पर संविदा महिला डीसीएम ने मांगी रिश्वत कलेक्टर ने सभी कार्य/शाखा से किया पृथक

Uncategorized

कलेक्टर कार्यालय के नाम पर संविदा महिला डीसीएम ने मांगी रिश्वत
कलेक्टर ने सभी कार्य/शाखा से किया पृथक

उमरिया 29 सितम्बर – कलेक्टर कार्यालय के नाम से अनैतिक रूप से एनएचएम में डिस्ट्रिक्ट कम्युनिटी मोबिलाईज़र के पद पदस्थ (संविदा) निधि अग्रवाल ने पैसे की डिमांड की थी। जो मामला जिले के कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव के संज्ञान में आने के बाद मामले की जांच करवाने पर पाया गया कि ग्राम रोहनिया जनपद पंचायत मानपुर निवासी आशा कार्यकर्ता श्रीमती सरोज प्रजापति से कलेक्टर कार्यालय के नाम पर 30 हजार रुपए की मांग की थी जबकि गांव के ही किसी अवधेश के द्वारा 70 हजार रूपये वसूले जा चुके थे। वहीं सरोज प्रजापति का पति लगातार गिड़गिड़ाता रहा कि दीदी 5 हजार रुपये ले लीजिए, फिर भी निधि अग्रवाल धौंस बताती रही कि हमारी कलेक्टर आफिस में 30 हजार की बात हो चुकी है, हम कम कैसे ले लेंगे। इस सारे मामले की जानकारी जब जिले के ईमानदार कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव को लगी तो उन्होंने तत्काल प्रभाव से डिस्ट्रिक्ट कम्युनिटी मोबिलाईजर निधि अग्रवाल से सभी कार्य एवं शाखा से पृथक कर दिया। हालांकि पहली बार देखने को मिला जब किसी संविदा महिला ने कलेक्टर कार्यालय के नाम से अनैतिक रूप से पैसा लेने की मांग की है। जबकि एनएचएम में पदस्त डीसीएम का प्रमुख कार्य विभागीय कार्यों को आशा एवम उषा कार्यकर्ताओं से कराना एवं उच्च कार्यालय से प्राप्त निर्देशों के आधार पर प्रशिक्षण कराना है।

निधि अग्रवाल डी सी एम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *