जिला पंचायत अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री को लिखा पत्र

राज्य हेल्थ

सुरेन्द्र त्रिपाठी

जिला पंचायत अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री को लिखा पत्र
उमरिया 3 सितम्बर – जिले से हुए चिकित्सकों के स्थानांतरण से नाखुश है जिले की जनता, जिले की स्थापना से लेकर आज तक विकास की बाट जोह रहा उमरिया जिला अब आने वाले दिनों में स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर और गहरे संकट में न पड़ जाए इसको लेकर जिले की आदिवासी और संवेदनशील नेत्री और जिला पंचायत की अध्यक्ष कु. ज्ञानवती सिंह ने सूबे के मुखिया शिवराज सिंह चौहान को आवश्यक दिशा- निर्देश जारी करने पत्र लिखा है जिला पंचायत अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री को जिले में पूर्व से ही चल रही चिकित्सकों की कमी और फिर उपलब्ध डॉक्टरों में से भी चार डॉक्टरों के स्थानांतरण से जिले में संभावित संकट उत्पन्न होने की स्थिति से अवगत कराते हुए जल्द से जल्द नई पदस्थापना करने और उक्त समयावधि तक वर्तमान में उपलब्ध डॉक्टरों की सेवाएं जिले में जारी रखने आग्रह किया है ।
मुख्यमंत्री को उमरिया की जनता प्राणों से प्रिय – ज्ञानवती
जिला पंचायत अध्यक्ष ज्ञानवती सिंह ने कहा कि वर्तमान में हुए चिकित्सकों के स्थानांतरण से कोरोनो काल जैसी स्थिति में जिले की स्वास्थ्य सेवाएं प्रभावित हो सकती है ऐसी स्थिति में पूर्व से ही चिकित्सको की कमी है और फिर स्थानान्तरित हुए चार चिकित्सको के जाने से स्थितियां असामान्य हो सकती है जिसे लेकर हर पल प्रदेश की जनता के सुख के लिए अपना पसीना बहाने वाले संवेदनशील मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को जिले की स्वास्थ्य सेवाओं की स्थिति से अवगत कराने मैंने पत्र लिखा है जल्द ही जिले की स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार और चिकित्सकों की नई पदस्थापना को लेकर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री ने आश्वस्त किया है ।
गौरतलब है कि प्रदेश में भाजपा की सरकार होने के बाद जिले में कैबिनेट मंत्री, विधायक, भाजपा जिलाध्यक्ष, सभी के द्वारा यदि मिल कर प्रयास किया जाता तो आज जिले की स्वास्थ्य सुविधा में चार चांद लग गए होते, जबकि यहां मशीनों और सुविधाओं की कमी नही फिर भी नेता और मंत्री अपने मे व्यस्त हैं, लेकिन जिले की पहली आदिवासी महिला नेत्री ने मुख्यमंत्री को पत्र लिख कर स्वास्थ्य सुविधाओं के बारे में पहल किया है जो अत्यंत सराहनीय कदम है। फिर भी अब देखना है इसका कितना असर होता है।

मुख्यमंत्री को लिखा गया पत्र
पत्र

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *