देर रात जिला अस्पताल पंहुचे कलेक्टर, 1 वार्ड बॉय को किये सस्पेंड

राज्य

देर रात जिला अस्पताल पंहुचे कलेक्टर, 1 वार्ड बॉय को किये सस्पेंड

उमरिया 14 अक्टूबर – जिला अस्पताल में व्याप्त अव्यवस्थाओं की खबर सुन देर रात पंहुचे कलेक्टर जिला अस्पताल, एक वार्ड बॉय को किये निलंबित। कलेक्टर के सख्त तेवर देख पंहुचे सिविल सर्जन। कलेक्टर के पहुंचते ही दिखने लगी व्यवस्था।
उमरिया जिला अस्पताल को यदि अव्यवस्थाओं का अस्पताल कहा जाय तो कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी। कहने को तो यहां बहुत वार्ड बॉय हैं लेकिन नजर दो – चार ही आते हैं। यहां घायलों और मरीजों के परिजनों को ही स्ट्रेचर घसीटना पड़ता है। ऐसा ही आज रात में हुआ जब लगातार 6 – 7 बाइक सवार अलग – अलग जगहों से दुर्घटना ग्रस्त होकर 108 एम्बुलेंस की सहायता से जिला अस्पताल आये। तो यहां सारे वार्ड बॉय नदारद रहे। यह सूचना जिले के कलेक्टर तक पहुंचते ही तत्काल जिला अस्पताल पहुंच कर वहां की स्थिति देख कर नाराज हो गए और वार्ड बॉय की जानकारी लेने लगे। उनको पता चला कि ओ टी अटेंडेंट एकाउंट देख रहा है तो कोई ओ टी में रिजर्व रहता है तो वहीं कोई टी बी सेक्शन का काम देख रहा है, कोई कम्प्यूटर आपरेटर का काम कर रहा है। सभी नेताओं का एप्रोच लगाकर आराम की जगह पर बैठे हैं और मरीजों के परिजन स्ट्रेचर घसीट रहे हैं, वहीं अगर नजर आते हैं तो दैनिक वेतनभोगी 3 हजार रुपये में काम करने वाले। वहीं कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव ने बताया कि अभी कुछ वार्ड बॉय डियुटी में लगे हैं और हमने अभी योगेश दुबे को सस्पेंड किया है कल फिर आऊंगा तो देखूंगा और सभी को उनकी डियुटी पर लगाऊंगा।
गौरतलब है कि अस्पताल प्रबंधन व्यवस्था को लेकर काफी लापरवाह है, जबकि जिले के कलेक्टर व्यवस्था सुधारने में लगे हैं, अब देखना है कि कब तक व्यवस्था में सुधार होगा।

घायल जिला अस्पताल में
घायल को ले जाते परिजन
जिला अस्पताल का नजारा
संजीव श्रीवास्तव कलेक्टर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *