टेन्ट संचालक की हत्या चंदिया पुलिस ने किया आरोपी गिरफ्तार

क्राइम प्रदेश

टेन्ट संचालक की हत्या चंदिया पुलिस ने किया आरोपी गिरफ्तार

उमरिया 16 अक्टूबर – थाना प्रभारी चंदिया राघवेन्द्र तिवारी को जरिये मोबाइल सूचना प्राप्त हुई कि ग्राम दुग्बार में दुर्गा विसर्जन के उपरान्त हुये विवाद में संतोष चौधरी निवासी दुग्बार की कुछ व्यक्तियों व्दारा हत्या कर दी गई है । सूचना प्राप्त होते ही थाना प्रभारी चंदिया तत्काल सूचना तस्दीक हेतु थाना स्टाफ के साथ ग्राम दुग्बार रवाना हुये । मौके पर पहुंचने पर राहुल पिता संतोष चौधरी व्दारा पुलिस को बताया गया कि उसके पिता संतोष चौधरी पिता स्व. गोकुल चौधरी उम्र 42 वर्ष, दशहरा देखने गये थे दुर्गा विजर्जन के उपरान्त वह (मृतक) हरदेव लाला के चबूतरा दुर्गा पंडाल में बैठे थे तभी प्रीतम बैगा ने संतोष चौधरी से साउण्ड बाक्स बजाने के लिये कहा तो संतोष ने बोला कि मैने दो साउण्ड बाक्स दुर्गा पण्डाल में दिये थे जिसमें से 1 को खराब कर दिये हो पहले उसकी बनवाई दो तब साउण्ड बजाउंगा । इसी बात को लेकर प्रीतम बैगा एवं संतोष चौधरी की बहस हो गई, इसी दौरान प्रीतम का भाई सुनील बैगा, भतीजा बुध्दु बैगा, भांजा हरछठी बैगा मौके पर आ गये और चारों ने मिलकर संतोष चौधरी के साथ लात घूसों से मारपीट की और उठा कर पटक दिया। इसके बाद संतोष वहां से चला गया तब चारो आरोपी पुनः उसका पीछा कर आगे तिराहे पर उसको रोक लिये और झूमा झपटी किये, इसी बीच संतोष रोड पर गिर गया और घर ले जाते समय रास्ते में ही फौत हो गया। प्रकरण की संपूर्ण जानकारी थाना प्रभारी चंदिया को प्राप्त होने पर संपूर्ण हालात के संबंध में पुलिस अधीक्षक उमरिया प्रमोद कुमार सिन्हा को अवगत कराया एवं मौके पर ही मर्ग कायम कर आईपीसी की धारा 302, 341, 34 का मामला दर्ज कर विवेचना में लिया गया, प्रकरण की गंभीरता को दृष्टिगत रखते हुये पुलिस अधीक्षक उमरिया व्दारा आरोपी की गिरफ्तारी एवं अग्रिम विवेचना हेतु विशेष टीम का गठन किया गया, गठित टीम व्दारा कायमी उपरान्त प्रयास कर महज चंद घंटो में चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय के समक्ष पेश किया गया ।

इनकी रही सराहनीय भूमिका

पुलिस अधीक्षक उमरिया प्रमोद कुमार सिन्हा के मार्गदर्शन एवं अनुविभागीय अधिकारी पुलिस उमरिया रविशंकर पाण्डेय के पर्यवेक्षण में थाना प्रभारी चंदिया निरी. राघवेन्द्र तिवारी के नेतृत्व में गठित टीम में शामिल उप निरीक्षक नितेश सिंह, उनि. रामस्वरूप संत, सउनि. रावेन्द्र तिवारी, सउनि. अशोक ठाकुर, सउनि. धर्नेन्द्र कुमार, सउनि. राजमणि मांझी, प्र.आर. 250 शरद सैनी, प्र.आर. 138 दलवीर सिंह, प्र.आर. 146 आशीष दुबे, आर. 328 उपेन्द्र सिंह, आर. 91 मेहताब सिंह, आर. 51 सत्येन्द्र गर्ग, आर. 273 हिमांशू पाण्डेय का हत्या कांड का खुलासा करने एवं आरोपियों की गिरफ्तारी में सराहनीय योगदान रहा ।

मृतक संतोष चौधरी
खड़े ग्रामीण
मृतक का भतीजा
प्रमोद कुमार सिन्हा एस पी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *