बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के खितौली परिक्षेत्र सेें जंगली हाथी को पहली बार किया गया रेस्क्यू

राज्य

बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के खितौली परिक्षेत्र सेें जंगली हाथी को पहली बार किया गया रेस्क्यू

उमरिया 20 नवंबर – उप संचालक बांधवगढ टाईगर रिजर्व लवित भारती ने बताया कि बांधवगढ़ टाइगर रिज़र्व के खितौली वन परिक्षेत्र में, एक जंगली हाथी, जो विगत काफी समय से पार्क एवं आसपास के गांव में जन-धन को नुकसान पहुचा रहा था, को पार्क प्रबंधन द्वारा सफलता पूर्वक पकड़ लिया गया। विगत कुछ समय से ये हाथी पार्क एवं आस-पास के छेत्रों विशेष रूप से ताला, पतौर, पनपथा, खितौली के गढ़पुरी गांव में घर तोड़ना, खेतो की फसल नष्ट करना, आदि के द्वारा काफी उत्पात मचा रहा था, जिस वजह से आस पास के जनमानस में इस हाथी के प्रति विरोध एवं भय का माहौल था। हाथी के द्वारा पार्क के पेट्रोलिंग कैम्पों, सोलर पैनल को भी अत्यधिक नुकसान पहुचाया गया था, जिस वजह से इसको पकड़ने की अनुमति मुख्य वन्य प्राणी अभिरक्षक एवं प्रधान मुख्य वन संरक्षक (वन्यप्राणी) भोपाल द्वारा दी गई। आज सुबह इसकी उपस्थित खितौली की बीट पूर्व बगदरी में पता चलने पर वरिष्ठ अधिकारियो को सूचित किया गया एवं टीम बना कर रवाना की गई। इस समूची कार्यवाही का सफल नेतृत्व उप संचालक आई.एफ.एस. लवित भारती के मार्गदर्शन में पशु चिकित्सक नितिन गुप्ता द्वारा किया गया। कार्यवाही के दौरान मौके पर पनपथा सहायक संचालक आई.एफ.एस स्वरूप दीक्षित, ताला सहायक संचालक अभिषेक तिवारी, धमोखर सहायक संचालक सुधीर मिश्रा, ताला वन परिक्षेत्र अधिकारी रंजन सिंह परिहार, खितौली वन परिक्षेत्र अधिकारी स्वस्ति श्री जैन भी उपस्थित रहे। पार्क के 05 विभागीय हाथी, महावत सहित कुल 78 अधिकारी/कर्मचारियों ने कार्यवाही में भाग लिया। पकडें गये जंगली हाथी के स्वास्थ्य का परीक्षण डॉ नितिन गुप्ता द्वारा किया गया, हाथी पूर्ण रूपेण स्वस्थ्य पाया गया गया। अभी इस हाथी को कुछ समय तक सतत निगरानी में रखा जाएगा।

रेस्क्यू किया गया हाथी
रेस्क्यू टीम
देखते सभी लोग

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *